आयरन की कमी के लक्षण और दूर करने के उपाय

GoMedii Ad - Buy Medicine Online

आयरन की कमी की वजह से एनीमिया की बीमारी होती हैं। यह बीमारी तब होता है जब आपके शरीर में आयरन की मात्रा कम होती है, क्योंकि हीमोग्लोबिन बनाने के लिए हमारे शरीर को आयरन की जरूरत है। जब आपके रक्त प्रवाह में पर्याप्त आयरन नहीं होता है, तो शरीर के बाकी हिस्सों को ऑक्सीजन की मात्रा नहीं मिल पाती है।

 

हमारे शरीर में आयरन , फोलिक ऐसिड और विटामिन बी की कमी होती है तब हीमग्लोबिन की मात्रा कम हो जाती है, जिस वजह से हमें थकान और कमजोरी महसूस होती है। इतना ही नहीं , हीमोग्लोबिन लेवल कम होने से इसका असर हमारी किडनी पर नहीं पड़ता है।

 

आयरन की कमी के लक्षण

 

  • बहुत जल्दी थकान होने लगती है,

 

  • थकान होने पर चक्कर आना,

 

  • कमजोरी आना भी आयरन की कमी के लक्षण हो सकते है,

 

  • खून में रेड सेल्स की मात्रा कम हो जाती है , जिससे चेहरे का रंग पीला दिखाई देने लगता है,

 

  • आयरन की कमी की वजह से खून दिमाग तक नहीं पहुंच पाता और जिस वजह से माइग्रेन की समस्या हो जाती है।

बच्चों में आयरन की कमी को दूर करने के उपाय

 

  • शिशु को कम से कम 12 महीने तक स्तनपान करवाएं।

 

  • जब बच्चा लगभग 6 महीने का हो जाए तो विटामिन सी खाद्य पदार्थों को उनके भोजन में प्रतिदिन शामिल करें। विटामिन सी आपके बच्चे को आयरन को अवशोषित करने में मदद करता है।

 

  • अगर आप बच्चे को कसी कारणवश स्तनपान नहीं करा पाती है तो आयरन फोर्टिफाइड फॉर्मूला मिल्क का उपयोग करें।

 

  • जब तक बच्चा कम से कम 12 महीने का न हो जाएं तब तक उसे गाय का दूध, बकरी का दूध, और सोया दूध न पिलाये।

 

  • अगर बच्चे का जन्म समय से पहले हो गया हो , तो उसे आयरन ड्रॉप्स जरूर दे , लेकिन इससे देने से पहले इस बारे में डॉक्टर से एक बार जरूर सलाह ले।

 

  • बच्चे के 2 साल की उम्र के बाद फुल क्रीम दूध के स्थान पर कम वसा या नॉनफैट दूध का उपयोग किया जाना चाहिए।

 

महिलाओं में आयरन की कमी को दूर करने के उपाय

 

  • आयरन से भरपूर खाद्य पदार्थ को भोजन में शामिल करें।

 

  • विटामिन सी वाले खाद्य पदर्थो को भोजन में शामिल करे , जैसे की – लाल मीट, मुर्गी और मछली खाएं।

 

  • मांस, मुर्गी, मछली, टोफू, सेम और पालक जैसे आयरन में समृद्ध खाद्य पदार्थों का सेवन करें।

 

विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करें

 

लीन लाल मांस का सेवन

 

यह आयरन का सबसे अच्छा स्रोत है। इसका सेवन करने से आप आयरन की कमी को कम कर सकते हैं।

 

चिकन और मछली का सेवन

 

आयरन की कमी को पूरा करने के लिए आप चिकन और मछली का सेवन कर सकते हैं

 

भोजन के साथ कॉफी, चाय या दूध पीने से बचें

 

खाना खाते वक़्त चाय, कॉफ़ी या दूध पीने से बचें। भोजन के बाद या उससे पहले अपनी कॉफी या चाय लें।

 

आयरन से समृद्ध खाद्य पदार्थ चुनें

 

अगर आप मांस और मछली नहीं खाते हैं, तो अपने आहार में आयरन से समृद्ध खाद्य पदार्थों को शामिल करें।

 

गुड़ और मूंगफली के दाने का सेवन करे

 

हर रोज गुड़ और मूंगफली के दाने का सेवन करे और इसे अच्छी तरह चबा-चबा कर खाने से खून की कमी नहीं होगी।

 

अंकुरित आहार

 

सुबह उठकर अंकुरित अनाज जैसे मूंग, चना, मोठ और गेंहू इत्यादि में नींबू का रस मिलाकर खाने से हीमोग्लोबिन का लेवल बढ़ता है।

 

केला

 

शहद या आंवले के रस के साथ केले का सेवन करने से हीमोग्लोबिन लेवल को बढ़ाया जा सकता है।

 

पालक

 

इसमें आयरन की मात्रा काफी अधिक होती है। हीमोग्लोपबिन की कमी होने पर पालक का सेवन करे।

 

सूखी किशमिश

 

आयरन की कमी को पूरा  करने के लिए , सूखी काली किशमिश का सेवन करे, इससे आपके शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा भी बढ़ेगी।

 

अनाज

 

इसमें आयरन अधिक मात्रा में पाया जाता है। भोजन में गेंहू और सूजी की बनी चीजे हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ाने के लिए बहुत फायदेमंद हैं।

 

आयरन की कमी को दूर करने के लिए , बहुत से ऐसे खाद्य पदार्थ है जिनमें आयरन भरपूर मात्रा में होता हैं। तो आप अपने भोजन में ऐसे पदार्थो को शामिल जरूर करे , इससे आपको एनीमिया की बीमारी नहीं होगी और आप स्वस्थ भी रहेंगे। और कोई भी परेशानी होने पर डॉक्टर से सलाह जरूर ले।


Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।


   
GoMedii - Buy Medicine Online