कैसे जानेंगे कि दिल का दौरा पड़ने वाला है – यहां जानें इसके लक्षण

GoMedii Ad - Buy Medicine Online

हमारे शरीर में सभी अंगों की तरह दिल भी कई कारणों से बीमार होता है और इसके बीमार होने से दिल का दौरा भी पड़ सकता है, जो की बहुत ही खतरनाक है। दिल की बीमारियों को हृदय रोग भी कहा जाता है, जिसमे हृदय से संबंधित अनेक बीमारियां एवं परेशानी होती हैं, जिसका हृदय पर बहुत बड़ा प्रभाव पड़ता है। इसमें  कोरोनरी आर्टरी डिजीज , एंजाइना , दिल का दौरा आदि बीमारियां आती हैं।

 

हृदय हमारे शरीर का एक महत्त्वपूर्ण अंग है। यह छाती के मध्य में, थोड़ी सी बाईं ओर स्थित होता है। हमारा ह्रदय एक दिन में लगभग एक लाख बार और एक मिनट में 60-90 बार धड़कता है। जब एक या एक से ज्यादा आर्टरी रुक जाती है तो, हृदय की कुछ मांसपेशियों को आहार और ऑक्सीजन नही मिल पाती। और इस स्थिति को हार्ट अटैक यानी दिल का दौरा कहा जाता है।

 

 

हार्ट अटैक (दिल का दौरा)

 

जब हार्ट अटैक की समस्या होती है, तब आमतौर पर लक्षण आधे घंटे तक या इससे ज्यादा समय तक रहते हैं और इस वक़्त आराम करने या दवा खाने से भी आराम नहीं मिलता। लक्षणों की शुरुआत मामूली दर्द से होकर गंभीर दर्द तक पहुंच सकती है।

 

कुछ लोगों में हार्ट अटैक का कोई लक्षण सामने नहीं आता। जो डायबीटीज से पीडि़त होते हैं , आमतौर पर उन मरीजों को ये समस्या होती है।

 

जिन लोगों को हार्ट अटैक की आशंका लगे तो , वे बिल्कुल देर न करें। तुरंत ही डॉक्टर की सलाह ले , क्योंकि हार्ट अटैक में फौरन इलाज बहुत जरूरी है। इलाज जितनी जल्दी होगा, मरीज के पूरी तरह ठीक होने की संभावना उतनी ही ज्यादा होगी। इसलिए लापरवाही न करे।

 

 

दिल के दौरे के लक्षण

 

 

दिल के दौरे के लक्षण लोगो में अलग-अलग तरह के होते है। नीचे बताये गए लक्षणों का ध्यान रखे –

 

1. सीने में बेचैनी

 

kaise jaanenge ki dil ka daura padnewala hai - yha jaane iske lakshan

 

यह दिल का दौरा पड़ने का सबसे आम लक्षण है। एक व्यक्ति को छाती के बीच में शुरू होने वाले दर्द की भावना महसूस हो सकती है। दर्द आमतौर पर कुछ मिनटों से अधिक समय तक रहती है। यह जा सकती है और फिर वापस भी लौट सकती है। यह दर्द आगे बांह और पीठ, या सिर और गर्दन तक भी फैल सकती है।

 

2. जबड़े में दर्द

 

kaise jaanenge ki dil ka daura padnewala hai - yha jaane iske lakshan

 

जबड़े, पीठ या बाहों में दर्द, दिल के दौरे की स्थिति का संकेत दे सकता है। आपको तुरंत चिकित्सक को दिखना चाहिए। जिससे आपको परेशानियों का सामना न करना पड़े।

 

3. सांस की कमी

 

kaise jaanenge ki dil ka daura padnewala hai - yha jaane iske lakshan

 

  • अगर आप सांस की कमी की वजह से हांफ रहे हैं, तो यह दिल का दौरा पड़ने का एक सामान्य लक्षण है।

 

  • सांस की तकलीफ या साँस लेने में कठिनाई, चिकित्सकीय रूप से डिस्पेनिया के रूप में जाना जाता है।

 

4. मतली

 

kaise jaanenge ki dil ka daura padnewala hai - yha jaane iske lakshan

 

मतली भी दिल का दौरा पड़ने का लक्षण है। अगर आप अपच की भावना महसूस कर सकते हैं। कभी-कभी मतली के साथ डकार भी सकती है। यह लक्षण महिलाओं में अधिक होती है।

 

5. उल्टी

 

kaise jaanenge ki dil ka daura padnewala hai - yha jaane iske lakshan

 

कभी-कभी मतली इतनी गंभीर हो सकती है कि आप उल्टी भी कर सकते हैं।

 

6. थकान

 

kaise jaanenge ki dil ka daura padnewala hai - yha jaane iske lakshan

 

बिना किसी काम के थकान महसूस करना यह भी संकेत हो सकता है दिल का दौरा पड़ने के। कुछ लोगों को दिल के दौरे के दौरान चिंता या डर का भी अनुभव होता है।

 

7. पसीना आना

 

kaise jaanenge ki dil ka daura padnewala hai - yha jaane iske lakshan

 

कोई काम किये बिना पसीना भी दिल का दौरा पड़ना का संकेत हो सकता है।

 

8. अनियमित दिल की धड़कन

 

kaise jaanenge ki dil ka daura padnewala hai - yha jaane iske lakshan

 

यदि आप कुछ सेकंड से अधिक के लिए अनियमित धड़कन महसूस करते हैं, या ऐसा अक्सर होता है, तो अपने डॉक्टर से बात करें। पर अनियमित दिल की धड़कन का महसूस होना अन्य कारण भी हो सकते हैं।

 

9. कमजोरी महसूस होना

 

kaise-jaanenge-ki-dil-ka-daura-padnewala-hai---yha-jaane-iske-lakshan

 

अचानक शरीर में कमजोरी महसूस होना, दिल का दौरा पड़ने का संकेत हो सकता है।

 

10. सुखी या लगातार खांसी होना

 

kaise jaanenge ki dil ka daura padnewala hai - yha jaane iske lakshan

 

अगर आपको लगातार सुखी खांसी हो रही है तो, यह दिल के दौरे की चेतावनी है। लेकिन हो सकता है, यह अन्य हृदय की समस्याओं का संकेत हों। पर आप इसे नजरअंदाज न करे और डॉक्टर से जांच कराये।

 

दिल के दौरे से बचने का सबसे आसान उपाय है, उन लक्षणों को जानना जो आपके लिए खतरनाक हो सकते हैं । इसलिए आप बिना देरी किये लक्षण के नजर आते ही डॉक्टर्स से संपर्क करे और अपना नियमित रूप से जांच कराये।

 


Disclaimer: GoMedii  एक डिजिटल हेल्थ केयर प्लेटफार्म है जो हेल्थ केयर की सभी आवश्यकताओं और सुविधाओं को आपस में जोड़ता है। GoMedii अपने पाठकों के लिए स्वास्थ्य समाचार, हेल्थ टिप्स और हेल्थ से जुडी सभी जानकारी ब्लोग्स के माध्यम से पहुंचाता है जिसको हेल्थ एक्सपर्ट्स एवँ डॉक्टर्स से वेरिफाइड किया जाता है । GoMedii ब्लॉग में पब्लिश होने वाली सभी सूचनाओं और तथ्यों को पूरी तरह से डॉक्टरों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा जांच और सत्यापन किया जाता है, इसी प्रकार जानकारी के स्रोत की पुष्टि भी होती है।


   
GoMedii - Buy Medicine Online